भोपाल नगर निगम को दो हिस्सों में संचालित करने के फैसले पर कांग्रेस और भाजपा हुई आमने-सामने।

सतीश मालवीय विशेष संवाददाता

भोपाल@ मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की नगर निगम को दो हिस्सों में बांटने के फैसले पर सत्तारूढ़ कांग्रेस और विपक्ष की भाजपा एक बार फिर आमने-सामने आ गई हैं।

भारतीय जनता पार्टी के नेता सांसद,विधायक और पार्षद सब एक सुर में सुर मिलाकर भोपाल नगर निगम को दो हिस्सों में बांटने की पुरजोर मुखालफत कर रहे हैं दो तीन दिनों से जारी कलेक्ट्रेट में भाजपा के नेता विधायक और पार्षद लगातार कलेक्टर,एडीएम और एसडीएम के पास फैसले को निरस्त करने के लिए आपत्ति लगा रहे हैं। भाजपा के विरोध और आपत्तियों के जवाब में कांग्रेस भी खुलकर सामने आ गई हैं।

कलेक्ट्रेट में भोपाल नगर निगम को दो हिस्सों में बांटने के खिलाफ आपत्ति लगाने वालों में मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष और जबलपुर से सांसद राकेश सिंह भोपाल जिला अध्यक्ष विकास वीरानी भोपाल के महापौर आलोक शर्मा और नरेला से विधायक विश्वास सारंग के साथ ही भाजपा के पार्षद और कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply