मास्क को मित्र बनाकर, स्कूल लौटें हम – सारिका घारू

DG NEWS

सुरेश मालवीय की रिपोर्ट 8871288482

होशंगाबाद । स्वच्छता और सामाजिक दूरी का सूत्र अपनायें स्कूल में । सावधानी ही ले जायेगी 1 कक्षा के स्कूल को फिर 12 कक्षाओं की ओर यह कहना है सारिका घारू का । सीईओ मनोज सरियाम के मार्ग दर्शन में विद्यार्थियों के लिये जागरूकता कार्यक्रम
दूरदर्शन एवं ऑनलाईन पढ़ाई के अतिरिक्त स्कूल भवन में अब

बच्चे को पढ़ाने की प्रक्रिया पुनः आरंभ होने जा रही है। सप्ताह के

छः दिनों में क्रमिक रूप से अलग-अगल विद्यार्थी कक्षा में बैंठकर अध्ययन करेंगे। दूसरी लहर के बाद आरंभ हो रही कक्षाओं में कोविड से बचाव के लिये शासन द्वारा तो अनेक उपाय किये गये हैं लेकिन विद्यार्थियों की स्वयं की जिम्मेदारी भी महत्वपूर्ण होगी। नेशनल अवार्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने एक जागरूकता कार्यक्रम में विद्यार्थियों के उत्तरदायित्व को बताया। कार्यक्रम का आयोजन होंशगाबाद जिला पंचायत के सीईओ मनोज सरियाम के मार्गदर्शन में किया गया। सारिका ने विद्यार्थियों से ये उपाय अपनाने की बात कही-
1 यथासंभव अपना स्वयं का पेयजल ले जायें।
2 स्कूल बैग का आकार अभी सीमित रखें।
3 व्यक्तिगत सेनिटाईजर भी साथ रखें लेकिन हाथ धोने के लिये पेपर सोप साथ रखें तो अच्छा होगा। 4 एक अतिरिक्त मास्क अपने बैग में रिजर्व रखें ताकि बरसात में भीगने पर बदला जा सके 5 स्कूली बैंच पर सोडियम हाईपोक्लोराइड का स्प्रे करके सेनिटाइज किया जाता है। इसका स्पर्श त्वचा पर न हो इसके लिए फुल बांह के कपड़े पहने । एक अतिरिक्त कपड़ा फर्नीचर पर लगे केमिकल को पहुंचने के लिए किया जा सकता है। 6 मास्क को लगातार लगाए रखें। 7 मित्रों से ग्रुप में मुलाकात न करें। अन्य लोगों को ऐसा करने पर रोकें। 8 क्लास मॉनिटर की तरह कोविड बचाव के उपाय अपनाने की जिम्मेदारी किसी विद्यार्थी को भी आम सहमति से दी जा सकती है। 9 लंच करते समय अलग-अलग बैठकर खाना खायें। समूह में मास्क हटाकर न बैंठें। सारिका ने कहा कि विद्यार्थियो एवं शिक्षकों की सावधानी ही एक कक्षा के स्कूल को फिर 12 कक्षाओं की ओर ले जा सकती है। वरना तीसरी लहर के आ जाने पर मोबाईल एवं दूरदर्शन पर ही शिक्षक दिवस 5 सितम्बर एवं बालदिवस 14 नवम्बर मनाना होगा

Leave a Reply