राजमाता सिंधिया की जयंती पर महिलाओं को आत्म-निर्भर बनाने का संकल्प

  • क्रिस्प आयोजित करेगा महिला उद्यमिता प्रशिक्षण कार्यक्रम

भोपाल। क्रिस्प के अध्यक्ष डॉ. श्रीकांत पाटिल ने कहा है कि राजमाता सिंधिया का सम्पूर्ण जीवन जन-सेवा के प्रति समर्पित रहा है। राजमाता महिला अधिकारों और उनके कल्याण के लिये जीवनभर कार्य करती रही हैं। डॉ. पाटिल राजमाता विजयाराजे सिंधिया की जयंती पर सेंटर फॉर रिसर्च एण्ड इण्डस्ट्रियल स्टॉफ परफार्मेंस (क्रिस्प) में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे।

डॉ. पाटिल ने बताया कि राजमाता चाहती थीं कि प्रदेश की प्रत्येक महिला आत्म-विश्वासी एवं आत्म-निर्भर हो। उनकी इस भावना को ध्यान में रखते हुए 102वीं जयंती पर क्रिस्प द्वारा महिलाओं को आत्म-निर्भर बनाने के लिये उद्यमिता प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने का संकल्प लिया। डॉ. पाटिल ने कहा कि क्रिस्प महिलाओं को उद्यमिता प्रशिक्षण प्रदान कर उनकी जीवन-शैली में सुधार लाने का प्रयास करेगा और मध्यप्रदेश को आत्म-निर्भर बनाने में महती भूमिका का निर्वहन करेगा। प्रारंभ में डॉ. पाटिल ने राजमाता के चित्र पर माल्यार्पण किया। इस मौके पर क्रिस्प के अधिकारी एवं अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply