बिजली कंपनी डिजिटलाइजेशन के क्षेत्र में गंभीरता से प्रयास करें

मप्रपक्षेविविकं के चेयरमैन और मप्र के ऊर्जा सचिव श्री विवेक पोरवाल की मौजूदगी में बैठक

    बिजली कंपनी लाइन लॉस गणना, उपभोक्ता सेवाओं, इनवाइस आदि के क्षेत्र में डिजिटलाइजेशन पर गंभीरता से प्रयास करे। इससे पारदर्शिता, कार्य में तेजी, गलती नहीं होने एवं उच्च स्तर पर वन क्लिक में पर्यवेक्षण में मदद मिलेगी।

      उक्त निर्देश मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के चेयरमैन और मप्र के ऊर्जा सचिव श्री विवेक पोरवाल ने दिए। मंगलवार को पोलोग्राउंड इंदौर स्थित सभागार में बिजली कंपनी के निदेशक मंडल की बैठक में श्री पोरवाल ने कहा कि नेट मीटर सोलर एनर्जी के लिए लोगों की मदद की जाए, उन्हें जानकारी देने एवं तकनीक सांझा करने का कार्य प्राथमिकता के साथ हो। क्वालिटी कंट्रोल के लिए भी बिजली कंपनी बहुत ही ध्यान से कार्य करे, ताकि हमारे उपकरण लंबे समय चले, सेवाएं कम से कम प्रभावित हो, उपभोक्ता परेशान न हो। इस मौके पर प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर ने कंपनी क्षेत्र में हो रहे कार्यों, उपभोक्ता सेवाओं, आपूर्ति एवं अन्य विषयों पर जानकारी प्रस्तुत की। बैठक में निदेशक मंडल के तीन अन्य सदस्य मप्र वित्त मंत्रालय के उप सचिव श्री रूपेश पथवार, आईआईएम के प्रोफेसर प्रशांत सालवान, एसजीएसआईटीएस के डायरेक्टर डॉ. आरके सक्सैना ने भी विचार रखे। मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक श्री रिंकेश कुमार वैश्य, कार्यपालक निदेशक श्री मनोज झंवर, श्री गजरा मेहता, श्री एसएल करवाड़िया, श्री एसआर बमनके, श्री नरेंद्र बिवालकर, कंपनी सचिव श्रीमती आराधना कुलकर्णी आदि भी इस दौरान प्रमुख रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply