जेरोन आवास योजना में अनियमितता पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दो अधिकारियों को किया सस्पेंड

नया आईटीआई संस्थान, नल कनेक्शन, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, आयुष्मान कार्ड, किसान सम्मान निधि सहित अन्य हितग्रही मूलक योजनाओं का हो प्रभावी
क्रियान्वयन : मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने निवाड़ी जिले के जेरोन में जनदर्शन कार्यक्रम के दौरान कहा कि पिछले दिनों कोरोना महामारी के कारण शासन-प्रशासन जनता की जिंदगी बचाने में लगा रहा। आज भी मैंने ओरछा में रामराजा सरकार से यही प्रार्थना की है कि भगवान, कोरोना की तीसरी लहर से सम्पूर्ण मानव जाति को बचाना। परंतु, भगवान भी उन्हीं की मदद करते हैं जो स्वयं की मदद करें। इसलिए कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी को टीकाकरण कराना जरूरी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कमिश्नर, कलेक्टर को भी निर्देश दिए कि टीकाकरण से छूटे हुए सभी व्यक्तियों को चिन्हित कर उनका प्राथमिकता से टीकाकरण कराएं। साथ ही जिन्हें प्रथम डोज लग चुका है उन्हें द्वितीय डोज़ भी अवश्य लगाएँ।

मुख्यमंत्री श्री चौहान जेरोन में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यहाँ प्रधानमंत्री आवास योजना में अनियमितता की जानकारी मिली, जिस पर उन्होंने सीएमओ श्री उमाशंकर तथा इंजीनियर श्री अभिषेक राजपूत को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने के निर्देश दिए। साथ ही पूरे प्रकरण की जाँच आर्थिक अन्वेषण ब्यूरो से कराने को कहा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 27 करोड़ की लागत से पानी की टंकी, पाइप लाइन, घर-घर नल कनेक्शन, दो करोड़ की लागत से बस स्टैंड, एक करोड़ की राशि से तालाब का सौंदर्यीकरण कराया जायेगा। साथ ही युवाओं के लिए आईटीआई संस्थान भी खोला जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जेरोन की जनता को इलाज की बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का उन्नयन भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 3 करोड़ 50 लाख रुपए की लागत से सीसी रोड तथा नालियों का निर्माण भी कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भ्रष्टाचारियों को छोड़ा नहीं जायेगा। गरीब और पात्र परिवारों को कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्ति जो आवास योजना में पात्रता रखते हैं, उनका पुनः सर्वे और सत्यापन किया जायेगा और नाम जोड़ने की कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। राशन पात्रता पर्ची के हितग्राहियों का भी सत्यापन किया जाएगा और पात्र हितग्राहियों को राशन पर्ची प्रदान की जाएगी।

जनदर्शन यात्रा के दौरान मजरा गाँव में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मजरा शिवलाल में 2 करोड़ की लागत से नल-जल योजना प्रारंभ की जाएगी। उन्होंने अपील की कि, मजरा के सभी पात्र व्यक्ति वैक्सीनेशन कराएँ, जिससे कोरोना को हराया जा सके। उन्होंने कहा कि 22 सितंबर को शिविर लगाकर प्रधानमंत्री आवास योजना के क्रियान्वयन की जाँच करते हुए छूटे हुए पात्र हितग्राहियों को लाभ दिलाया जायेगा। नल-जल योजना का ग्राम में कितना कार्य किया गया, इसकी जाँच भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जायेगा कि ग्राम के समस्त विद्यार्थियों को संबल योजना का लाभ मिले।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि स्व-सहायता समूह की महिलाओं के लिए रोजगार की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित करने की कार्रवाई की जाए। दि. 22 सितंबर को शिविर लगाकर समूहों की महिलाओं को रोजगार के विभिन्न आयामों से अवगत भी कराएं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ततारपुर में कहा कि हाथ ठेला और गुमठी आदि लगाकर जीवन-यापन करने वाले गरीब व्यक्तियों को स्ट्रीट वेंडर योजना में 10 हज़ार रुपए स्वीकृत किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि समस्त पात्र हितग्राहियों के खाते में 10 हज़ार रूपए की राशि पहुँची है या नहीं इसकी भी जाँच की जाएगी। किसान सम्मान निधि में भी पात्र किसानों को 10 हजार रूपए की राशि दी जा रही है, जिसमें 6 हजार रूपए प्रधानमंत्री और 4 हजार रूपए की राशि म.प्र. सरकार द्वारा दी जा रही है। उन्होंने निर्देश दिए कि विकट परिस्थितियों में जन-सामान्य का संबल- आयुष्मान योजना में अधिक से अधिक व्यक्तियों के कार्ड बनाए जाएं।

जनदर्शन यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान भोपालपुरा ग्राम भी पहुँचे। उन्होंने बताया कि भोपालपुरा में 18 करोड़ की लागत से सीएम राईज स्कूल बनाई जाएगी। स्कूल में स्कूल बसों के माध्यम से 20 किलोमीटर परिधि के सभी स्कूली छात्र पढ़ने आ सकेंगे। किसान तथा गरीब तबके के विद्यार्थी भी गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि मेडिकल एवं इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहे विद्यार्थी भी मन लगाकर पढ़ाई करें। चयन होने के बाद शासन द्वारा संपूर्ण फीस का खर्चा उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्थानीय अश्रु माता मंदिर को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा इसके लिए समस्त आवश्यक व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जाएगी।

Leave a Reply