केंद्रीय मंत्री श्री प्रह्लाद जोशी योग उत्सव मनाने में राष्ट्र के साथ शामिल हुए

केंद्रीय कोयला, खान और संसदीय कार्य मंत्री श्री प्रह्लाद जोशी आज यहां शास्त्री भवन में आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को ध्यान में रखते हुए आयोजित कार्यक्रम का उत्सव मनाने में राष्ट्र के साथ शामिल हुए।

‘योग उत्सव’ के हिस्से के रूप में आगामी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस- 2022 को ध्यान में रखते हुए, खान मंत्रालय द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में कोयला, खान और संसदीय कार्य मंत्रालयों के अधिकारियों और कर्मचारियों ने लगभग 250 लोगों के साथ आयुष मंत्रालय के मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के विशेषज्ञों द्वारा प्रदर्शित योग के तरीके का अभ्यास  करते हुए सक्रिय भागीदारी की।

IMG_256

लोगों को अपने दैनिक जीवन में योगाभ्यास अपनाने के लिए प्रोत्साहित करते हुए श्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, “संतुलित जीवन जीने के लिए शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के लिए योग अनिवार्य है। योग की लोकप्रियता देश की सीमाओं को पार कर गई है और आज दुनिया भर में इसका अभ्यास किया जाता है।”

श्री जोशी ने योग को दुनिया भर में लोकप्रिय बनाने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, ”स्वयं योग के शौकीन होने के अलावा, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने योग को जीवन के तरीके के रूप में अपनाने के लिए लोगों की कल्पना और उत्साह को समझ लिया है। जिस पैमाने पर भारत और दुनिया भर में अब योग का अभ्यास किया जाता है वह अभूतपूर्व है।”

IMG_256

इस अवसर पर कोयला, खान और रेल राज्य मंत्री श्री रावसाहेब पाटिल दानवे, संसदीय कार्य और संस्कृति राज्य मंत्री श्री अर्जुन राम मेघवाल, केंद्रीय खान सचिव श्री आलोक टंडन और संसदीय कार्य सचिव श्री ज्ञानेश कुमार उपस्थित थे।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा में योग की अवधारणा का प्रस्ताव करने के बाद प्रत्येक वर्ष 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। दुनिया के 175 देशों ने प्रधानमंत्री के इस विचार का समर्थन किया था।

IMG_256

कोविड-19 महामारी के कारण दो साल के अंतराल के बाद लोगों की भागीदारी से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस आयोजित किया जा रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी अगले महीने 21 जून को कर्नाटक के मैसूर में सामूहिक योगाभ्यास का नेतृत्व करने के लिए तैयार हैं।

Leave a Reply