मेघनगर में सरकार के मंत्री ने उड़ा दी नए दिशा निर्देशों की धज्जियां

झाबुआ। जिले के प्रभारी बनने के बाद दूसरी बार झाबुआ जिले के दौरे पर आए सरकार के मंत्री हरदीप सिंह डंग ने यह क्या कर दिया, अपनी ही सरकार के नियम कायदे ताक पर रख दिए और अपनी उपस्थिति दिखाने के लिए लोगों की भारी भीड़ बिना सोशल डिस्टेंस के एकत्रित कर ली, हाल ही में मध्यप्रदेश सरकार ने बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिये कोरोना कर्फ्यू को और सख्त बनाने के लिये नये दिशा निर्देश जारी किये। मगर सरकार के मंत्री ने नये दिशा निर्देशों की धज्जियां उड़ा दी। जिले के प्रभारी मंत्री मेघनगर अस्पताल का जायजा लेने 5 से 10 मिनिट रुके और स्वास्थ्य सुविधाओं को देखा, सब कुछ ठीक लगा और प्रभारी मंत्री चल दिये। मंत्री जी ने यहां थोड़ी सी चुक कर दी अस्पताल पहुंच रहे मरीजों से या उनके परिजनों से पूछताछ करते की समस्त सुविधाओं की व्यवस्था समुचित है या नहीं,तो उन्हें वास्तविक जवाब मिल जाता। इतना कम समय रुक कर ऐसी कौन सी व्यवस्थाए मंत्री साहब ने देख ली सब ठीक-ठाक लगा और आगे बढ़ गए। इस पुरे तारतम्य में प्रभारी मंत्री ने भीड़ जमा कर ली, चाहे कुछ वक्त ही प्रभारी मंत्री ने मेघनगर अस्पताल को दिया मगर वो यह भूल गये की संक्रमण फैलने में तो पल भर का वक्त ही लगता है। वहां 5 से 10 मिनिट ठहरे तो वाहन से उतरने के पहले दो पल सरकार के दिये नये दिशा निर्देश को ध्यान में ही ले आते। तो भीड़ जमा नहीं होने देते, मगर वो मंत्री ही क्या जिसके खड़े होने पर आसपास भीड़ इकत्र न हो, चाहे फिर आवाम में जान का खतरा ही क्यूं न फैला हुआ हो। हालांकि प्रभारी मंत्री के निज सचिव के कागज में दौरे में मेघनगर अस्पताल पर रुकना कहीं भी नहीं लिखा था। लेकिन सरकार की कौन सरकार। संशोधित दौरा कार्यक्रम में किसी खास कारणों से रातों रात मेघनगर अस्पताल दौरा जुड़ गया हो।

Leave a Reply