कौशल विकास, सीमेन्स इंडिया और जीआईजे़ड इंडिया के मध्य हुआ त्रिपक्षीय एम.ओ.यू

औद्योगिक मूल्य संवर्धन के लिए कौशल सुदृढ़ीकरण योजना (STRIVE) में इन्डो-जर्मन इनिशिएटिव फॉर टेक्निकल एजुकेशन प्रोग्राम (IGNITE) के लिए मध्यप्रदेश कौशल विकास, सीमेन्स इंडिया एवं जीआईजे़ड (GIZ) इंडिया के मध्य त्रिपक्षीय एम.ओ.यू. संपादित किया गया। सोमवार को संचालक कौशल विकास श्री जितेन्द्र सिंह राजे, सीमेन्स इंडिया के श्री धर्मवीर सिंह एवं जीआईजे़ड इंडिया की श्रीमती उषा गणेश ने एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर किये।

संचालक श्री जितेन्द्र सिंह ने बताया कि इंन्डो-जर्मन इनिशिएटिव फॉर टेक्निकल एजुकेशन प्रोग्राम का उद्देश्य जर्मन डूअल व्यवसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण मॉडल के आधार पर भारत में उच्च गुणवत्ता वाले प्रशिक्षण के लिए रूपरेख की स्थिति निर्मित करना है। उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश के चार इंडस्ट्री क्लस्टर एवं संबंधित 34 शासकीय आई.टी.आई. को आई.जी.एन.आई.टी.ई. प्रोग्राम के लिए चयन किया गया है। इसमें ग्वालियर-शिवपुरी इंडस्ट्री क्लस्टर में 7 शासकीय आई.टी.आई., जबलपुर-कटनी 9, सागर-दमोह 9 तथा रीवा-सतना इंडस्ट्री क्लस्टर में 9 शासकीय आईटीआई का चयन किया गया है।

संचालक श्री राजे ने बताया कि सीमेन्स इंडिया और जी.आई.जे़ड. (GIZ) के विशेषज्ञों द्वारा आई.टी.आई.के प्राचार्य, संस्था प्रमुख, ट्रनिंग एवं प्लेसमेंट अधिकारी, ट्रेड के प्रशिक्षण अधिकारियों की क्षमता निर्माण एवं आई.टी.आई.के 5 ट्रेड, इलेक्ट्रिशन, फिटर, टर्नर, मशीनिस्ट और इलेक्ट्रानिक्स मैकिनिक के ट्रेनिज को इंडस्ट्री क्लसटर में ”इन प्लांट ट्रेनिंग” और ग्रीन स्किल्स में प्रशिक्षण दिया जायेगा।

Leave a Reply