सी.आर.सी, लखनऊ ने वाराणसी में आयोजित किया जागरूकता एवं उपकरण वितरण कार्यक्रम

डीजी न्यूज इंडिया
मंदसौर से ब्यूरो चीफ
मंगल देव राठौर की खास रिपोर्ट
मो.+918305357955

लखनऊ/समेकित क्षेत्रीय कौशल विकास, पुनर्वास एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण केंद्र, लखनऊ के द्वारा दिनांक 24 अगस्त, 2021 को “नई सुबह, वाराणसी” के साथ भारत सरकार कि एडिप योजना के अंतर्गत बौद्धिक दिव्यांगजनों हेतु लर्निंग किट वितरित की गयी इसके साथ ही मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास हेल्पलाइन (किरण) एवं दिव्यांगता की शीघ्र पहचान और शीघ्र हस्तक्षेप सम्बन्धी जागरूकता कार्यक्रम भी आयोजित किया गया।
कार्यक्रम में सी.आर.सी., लखनऊ की ओर से उपस्थित व्याख्याता, जी शंकर गणेश ने भारत सरकार द्वारा चलाये जा रहे शीघ्र हस्तक्षेप केंद्रों की उपयोगिता के बारे में विस्तार से बताया। सी.आर.सी, लखनऊ की और से उपस्थित अन्य व्याख्याता नागेश पांडेय ने दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग, भारत सरकार द्वारा चलायी जा रही मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास हेल्पलाइन (किरण)-18005990019 के बारे में बताया उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में इस व्यस्तता भरे जीवन में हम सभी कभी न कभी मानसिक समस्या से ग्रस्त होते हैं परन्तु हम अपनी उस मानसिक समस्या के बारे में किसी से कुछ कह नहीं पाते। इस हेल्पलाइन का उद्देश्य यही है कि मानसिक समस्या से ग्रसित कोई भी व्यक्ति घर बैठ कर फ़ोन के माध्यम से कभी भी अपनी समस्या का निराकरण कर सकता है। इस हेल्पलाइन के द्वारा सम्पूर्ण भारत में मानसिक स्वास्थ्य से सम्बन्धी सेवाएं दी जा रहीं हैं।
कार्यक्रम में लगभग 17 बौद्धिक दिव्यांगजनों को लर्निंग किट वितरित की गयी। किट देखते ही सभी बौद्धिक दिव्यांगजनों के चेहरों पर ख़ुशी की लहर दौड़ गयी। कार्यक्रम में जनपद वाराणसी के दूर-दराज गांव से आये लगभग 100 प्रतिभागी उपस्थित रहे जिन्होंने सी आर सी , लखनऊ के कार्यों की भूरि-भूरि प्रशंसा की। इसके उपरांत सी.आर.सी, लखनऊ से आयी टीम ने बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय जाकर ट्रामा सेंटर के समस्त स्टाफ को मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास हेल्पलाइन (किरण) एवं शीघ्र हस्तक्षेप केंद्र के बारे में जागरूक किया।

Leave a Reply