बिलासपुर , 8 मई महान मातृ शक्ति जननी याने मातृ दिवस एवं हरिहर ऑक्सीजन वृक्षारोपण परीक्षेत्र की स्थापना दिवस पर उक्क्त गरिमामयी कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।

डीजी न्यूज़ इंडिया मध्य प्रदेश से
जिला जनपद ब्यूरो चीफ मंगल देव राठौर की खास रिपोर्ट
मो.+918305357955

बिलासपुर , 8 मई महान मातृ शक्ति जननी याने मातृ दिवस एवं हरिहर ऑक्सीजन वृक्षारोपण परीक्षेत्र की स्थापना दिवस पर उक्क्त गरिमामयी कार्यक्रम का आयोजन किया गया । वही ग्रामीण क्षेत्र में स्वरोजगार के साथ
स्वालंबन की दिशा में विशेष कार्य कर एक मुकाम बनाने वाली संगठनों व मातृ शक्तियों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया है । कार्यक्रम के अतिथि गणों में अरुण साव सांसद बिलासपुर, बैजनाथ चंद्राकर अध्यक्ष अपेक्स बैंक , श, रजनीश सिंह विधायक बेलतरा, प्रमोद नायक अध्यक्ष जिला सहकारी बैंक गोविंदा मिरी पूर्व सांसद
रहे ।
कार्यक्रम :- स्थान सिटी मॉल 36 ग्राउंड फ्लोर ,

दिनांक – 8 मई 2022 रविवार
को आयोजित हुआ । कार्यक्रम का संचालन
भुवन वर्मा संयोजक
हरिहर ऑक्सिजोन वृक्षारोपण परिक्षेत्र समिति , अरपा साइड सेंदरी रोड ,बिलासपुर द्वारा आयोजित किया गया है । जहां नारी शक्ति सम्मान से सम्मानित किया गया जिसमें सर्वश्री
डॉक्टर संजना तिवारी
संचालक संजीवनी हॉस्पिटल

श्रीमती सविता मढ़रिया
संचालक आशीर्वाद नेत्र चिकित्सालय

डॉक्टर श्वेता साव
सी वी रमन विश्वविद्यालय

श्रीमती शिल्पी केडिया
संचालक संभवी फाउंडेशन सल्फा

श्रीमती ओमी बी आर वर्मा
अध्यक्ष महिला विंग हरिहर

सुश्री शिवांगी यादव
समाजसेविका

डॉ सुनीता मिश्रा
कवि एवं साहित्यकार

डॉ मेघा तिवारी
संचालक महादेव हॉस्पिटल

श्रीमती किरण सिंह
वरिष्ठ उपाध्यक्ष हरिहर

सुश्री सीमा वर्मा
संचालक मुहिम एक अभियान

डॉ रश्मि बुधिया
संचालक बुधिया नर्सिंग होम

श्रीमती रितु शैलेश पांडेय समाज सेवा के क्षेत्र
समाज सेविका चंचला पटेल अध्यापिका स्पेशल एजुकेशन जो कि विशेष बच्चों को आत्म निर्भर बना रही,श्रीमती नीलिमा रात्रि
उपरोक्त संगठन एवं महिलाओं को नारी शक्ति सम्मान से सम्मानित किया
।कार्यक्रम के दौरान 5 ऐसे लोगों को सम्मानित किया गया जो अपने कार्य के साथ • अन्य महिलाओं को प्रशिक्षण देकर प्रेरित किया और उन्हें आत्मनिर्भर बनाया। इसमें चकरभाठा सीमा तिवारी हैं जो मशरूम लेडी के नाम से चकरभाठा में जानी जाती हैं। उन्होंने लगभग 200 महिलाओं को मशरूम का प्रशिक्षण दिया और राधा-कृष्ण स्व सहायता समूह से जोड़ा। आज ये मशरूम का उत्पादन कर रही हैं। इसी तरह रानी चक्रवर्ती हैं। जो पौंसरी में 90 से अधिक महिलाओं को मशाला, अचार, पापड़ बनाने का प्रशिक्षण दीं और इन्हें सखी शीतला स्व सहायता समूह से जोड़ीं। कडरी की गिरजा साहू महिलाओं को साबुन बनाने का प्रशिक्षण दे कर आत्मनिर्भर बना रही हैं। सेमरताल की सरोजनी अगरबत्ती बनाने का प्रशिक्षण दे रहीं हैं। वहीं बरतोरी की लक्ष्मी निषाद ब्यूटी पार्लर का प्रशिक्षण देकर महिलाओं को आत्मनिर्भर बना रही हैं।

About mangaldevrathore36

View all posts by mangaldevrathore36 →

Leave a Reply