सभी के सहयोग से बुधनी को छोटे शहरों में देश का पहला वाटर प्लस शहर बनायेंगे : मुख्यमंत्री श्री चौहान

गौरव दिवस पर बुधनी को आदर्श बनाने पूरा शहर आया एक मंच पर
बुदनी के खिलौना व्यवसाय को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाई जाएगी
मुख्यमंत्री ने 44 करोड़ 56 लाख रुपए की लागत से बने सीवरेज सिस्टम का किया लोकार्पण
गाड़ी में कचरा डाल कर दिया स्वच्छता का संदेश
59 करोड़ के निर्माण और विकास कार्यों का भी लोकार्पण एवं भूमि-पूजन
बुधनी को हर क्षेत्र में आगे बढ़ाने में योगदान का दिलाया संकल्प
नगर भ्रमण कर दिया गौरव दिवस का आंमत्रण

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सभी के सहयोग से बुधनी को देश का पहला वाटर प्लस और अद्भुत शहर बनाया जाएगा। शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाने के साथ यहाँ स्वास्थ्य, पर्यावरण, शिक्षा और रोजगार के क्षेत्र में भी उत्कृष्ट कार्य किये जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान बुधनी के गौरव दिवस पर 44 करोड़ 56 लाख रुपए की लागत से बने सीवरेज सिस्टम का लोकार्पण और 59 करोड़ के निर्माण और विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नगर भ्रमण कर नागरिकों को गौरव दिवस कार्यक्रम के लिए आंमत्रण भी दिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपने 63वें जन्म-दिन पर 63 कन्याओं का पूजन भी किया।  

सीहोर जिले के प्रभारी और लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, सांसद श्री रमाकांत भार्गव सहित जन-प्रतिनिधि तथा नगरवासियों ने गौरव दिवस में शामिल होकर खुले संवाद में बुधनी के विकास की चर्चा की। सभी ने नगर विकास में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने का संकल्प भी लिया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंदौर देश का पहला वाटर प्लस महानगर बन चुका है। अब हम सबके सहयोग से बुधनी को भी देश के छोटे शहरों की श्रेणी में पहला वाटर प्लस शहर बनाएंगे। उन्होंने कहा कि एक माह में सभी घरों के निस्तारी पानी को सीवरेज प्लांट से जोडा जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने  नागरिकों से अपील की कि खुले में शौच, सड़क पर कचरा फेंकने और पॉलीथिन के उपयोग आदि को छोड़ने का संकल्प लें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अगले वर्ष से बुधनी के गौरव दिवस पर 3 दिवसीय कार्यक्रम  होंगे। इस वर्ष मई में भी ये कार्यक्रम किये जायेंगे। बुधनी में शिक्षा की उत्कृष्ट व्यवस्था की जाएगी, जिससे कोई भी गरीब प्रतिभाशाली बच्चा उच्च शिक्षा के लिए भटके नहीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुधनी में सीएम राइज़ स्कूल खोलने की घोषणा भी की। उन्होंने कहा कि शासकीय सेवाओं की परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग संस्थान के साथ आईटीआई में विभिन्न व्यवसायों में प्रशिक्षण दिलाकर युवाओं और समूहों को जोड़ा जाएगा। युवाओं को स्व-रोजगार से जोड़ने के लिये प्रदेश में हर माह रोजगार दिवस मनाया जा रहा है, जिसमें अभी तक 10 लाख से अधिक युवाओं को बैंक से ऋण उपलब्ध करवा कर स्व-रोजगार उपलब्ध कराया गया है। रोजगार दिवस का आयोजन निरंतर जारी रहेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों को रोजी-रोटी उपलब्ध करवाना सरकार की पहली प्राथमिकता है। इसके लिये राज्य सरकार द्वारा अनेक योजनाएँ चलाई जा रही हैं। स्व-सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं के उत्पादों की ब्रांडिंग का कार्य भी राज्य सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बुधनी के खिलौना व्यवसाय को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाई जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गौरव दिवस का यह सन्देश भी है कि हम बेटियो का सम्मान करें, उनके जन्म लेने पर खुशियाँ मनाएँ। बुधनी में बेटियों की शादी का भी ऐतिहासिक कार्यक्रम किया जाएगा, जिसका संदेश पूरे देश में जाएगा और दूसरों के लिए प्रेरणा भी बनेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज हम सब मिल कर तय करें कि बुधनी का कोई भी बच्चा कमजोर और कुपोषित न हो। इसके लिए सरकार द्वारा संचालित की जा रही आँगनवाड़ियों को नागरिक गोद लें। सरकार के साथ जन-सहयोग से आँगनवाड़ियों का बेहतर संचालन हो और बच्चों को कुपोषण से मुक्त करें। मुख्यमंत्री के आव्हान पर अनेक व्यक्तियों ने आँगनवाड़ी गोद भी ली। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुधनी के व्यापारी संघ का आव्हान किया कि वे बुधनी को एक अलग पहचान देने के लिए अपने प्रतिष्ठान और अन्य व्यापारिक परिसरों के लिए किसी एक रंग का चयन करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शासन की जितनी भी योजनाएँ है, उनको आदर्श तरीके से क्रियान्वित करने के लिए जनता की भागीदारी जरूरी है। इससे विकास को गति मिलेगी और निर्माण कार्यों पर निगरानी भी रखी जा सकेगी। उन्होंने वार्डवार समितियाँ बनाने का सुझाव भी दिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नगर के विकास में भागीदार बनने वाले नागरिकों, व्यवसाइयों और सामाजिक संगठन के प्रतिनिधियों को भी सम्मानित किया। साथ ही शासन की विभिन्न योजनाओं में हितलाभ भी वितरित किए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नगर भ्रमण के दौरान कचरा गाड़ी में कचरा डालकर स्वच्छता का संदेश दिया। उन्होंने नागरिकों को स्वच्छ और सुंदर नगर बनाने की अपील की। मुख्यमंत्री ने नवनिर्मित सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट और नगर परिषद द्वारा स्वच्छता अभियान में बनाए गए पार्क, का निरीक्षण भी किया। मुख्यमंत्री ने श्री राजेश पाल तथा सुभाष पंजाबी के घर  पहुँच कर उनके परिजन के निधन पर शोक संवेदना और श्रद्धांजलि अर्पित की।

विहान फूड इंडस्ट्री की रखी आधार-शिला

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुधनी के जर्रापुर में निजी क्षेत्र की विहान फूड इंडस्ट्री का भूमि-पूजन किया। उन्होंने कहा कि कृषि आधारित इस उद्योग से क्षेत्र के किसानों को बेहतर दाम मिलेंगे और  रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। फूड इंडस्ट्री से 900 लोगों को रोजगार मिलेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बुधनी में नए युग की शुरुआत हुई है। क्षेत्र में औद्योगीकरण को गति देने के लिए राज्य  सरकार की ओर से उद्योगों के लिए भूमि उपलब्ध कराने और सरकारी प्रक्रिया का सरलीकरण किया गया है, जिससे उद्यमियों को उद्योग स्थापित करने में किसी तरह की कोई कठिनाई का सामना न करना पड़े। इस उद्योग द्वारा कृषि उत्पादों का प्रसंस्करण कर  अनेक तरह के खाद्य एवं पेय पदार्थ तैयार किए जाएंगे। सांसद श्री रमाकांत भार्गव,  प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी सहित जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

यज्ञ एवं राम कथा में भी शामिल हुए

मुख्यमंत्री श्री चौहान बुधनी तहसील के बासगहन में श्री लक्ष्मी नारायण 9 कुंडी यज्ञ एवं राम कथा में भी शामिल हुए। उन्होंने पद्म विभूषण संत श्री रामभद्राचार्य महाराज से आशीर्वाद लिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ईश्वर को पाने के तीन मार्ग है। एक ज्ञान मार्ग, दूसरा भक्ति मार्ग और तीसरा कर्म मार्ग है। उन्होंने कहा कि संत ज्ञान मार्ग से ईश्वर को प्राप्त करते हैं।

Leave a Reply