रीवा से भाजपा सांसद ने कहा- ‘जमीन में जिंदा गाड़ देंगे’ तो निगम कमिश्नर ने शेर पढ़कर दिया जवाब

नगर निगम की जमीन के अवैध आवंटन को लेकर कमिश्नर के नोटिस जारी करने से खफा हुए बीजेपी के सांसद जनार्दन मिश्रा (BJP MP Janardan Mishra). निगम कमिश्नर (Rewa Municipal Commissioner) ने जमीन के अवैध आवंटन को लेकर एक विधायक को भी नोटिस भेजा, जिससे स्थानीय लोग और सांसद हुए नाराज.

रीवा. मध्य प्रदेश के रीवा से भाजपा सांसद जनार्दन मिश्रा (BJP MP Janardan Mishra) अपने बेबाक बयानों के लिए जाने जाते रहे हैं. कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जूता मारकर भगाने का उनका बयान काफी चर्चा में रहा था. बीते रविवार को भी सांसद ने रीवा के नगर निगम कमिश्नर (Rewa Municipal Commissioner) को लेकर कुछ ऐसा ही विवादित बयान दिया. सांसद ने यहां पर हुई एक सभा में कहा कि अगर निगम आयुक्त ने लोगों के घरों को छूने की भी कोशिश की, तो उन्हें जिंदा जमीन में गाड़ देंगे. सांसद रीवा में योजना क्रमांक-6 के निवासियों के साथ चर्चा कर रहे थे. मजेदार बात यह है कि सांसद के इस हमले पर नगर निगम के कमिश्नर ने काफी सधी हुई और रणनीतिक प्रतिक्रिया दी है. रीवा नगर निगम के कमिश्नर सभाजीत यादव (Sabhajeet Yadav) ने सांसद के बयान पर शेर पढ़ते हुए कहा, ‘कुछ तो मजबूरियां रही होंगी, वर्ना कोई बेवफा नहीं होता.’

दरअसल, रीवा नगर निगम के अधिकारियों के ऊपर योजना क्रमांक-6 के तहत अवैध आवंटन में 300 करोड़ रुपए का भूमि घोटाला करने का आरोप है. बताया गया कि अफसरों ने नगर निगम की बेशकीमती जमीन का अवैध रूप से आवंटन किया. फर्जी तरीके से भवन निर्माण की अनुमति देकर इन अफसरों ने निगम को करोड़ों रुपए की चपत लगाई. निगम आयुक्त सभाजीत यादव ने आईएचएसडीपी योजना के तहत अवैध रूप से आवंटित भूमि और भवनों की जांच कराई और भवन-मालिकों को बकाया भुगतान का नोटिस भेज दिया. बताया गया कि दो दिन पहले पूर्व मंत्री और वर्तमान में विधायक राजेंद्र शुक्ल को भी ऐसा ही एक नोटिस मिला. विधायक ने कई विस्थापितों को निःशुल्क आवास आवंटित कराया है. निगम आयुक्त की तरफ से भेजे गए नोटिस में राजेंद्र शुक्ला से 4 करोड़ 95 लाख रुपए का भुगतान करने को कहा गया था. इसी मुद्दे को लेकर अब बवाल मचा हुआ है.

PRIYANKA SINGH reporter
सांसद के बिगड़े बोल
रीवा के सांसद जनार्दन मिश्रा योजना क्रमांक-6 के निवासियों से मिलने पहुंचे थे. यहां हुई बैठक में जब लोगों ने अपनी पीड़ा बताई तो सांसद बिफर पड़े. उन्होंने नगर निगम आयुक्त के खिलाफ तीखी प्रतिक्रिया दी. सांसद ने कहा, ‘अगर निगम आयुक्त ने योजना क्रमांक-6 में रह रहे लोगों के घर को हाथ भी लगाया, तो उन्हें जिंदा ही जमीन में दफना देंगे.’ सांसद ने बैठक के दौरान लोगों से पूछा, ‘निगम आयुक्त पाकिस्तान से ज्यादा खतरनाक हैं? अगर वह यहां के घरों को हाथ लगाने की कोशिश करे तो आप मुझे बताइए. कुदाल लेकर आऊंगा और उसी गली में गड्ढा खोदकर उसे वहीं दफना दूंगा.’ सांसद इतने पर ही नहीं रुके. उन्होंने लोगों से कहा कि आप लोग इसके लिए तैयार रहें. मैं न रहूं तो आप ही ये काम करें. इससे मेरा नाम होगा. पूरी दुनिया में लोग मुझे जानेंगे. सांसद मिश्रा ने प्रदेश सरकार पर भी आरोपों की बौछार की. उन्होंने कहा, ‘करोड़ों रुपए कोरेक्स के नाम पर यहां जमा होता है, जिसमें आधा एसपी लेता है और आधा सीएम के पास जाता है. रीवा जिले का हाल भी बुरा है.’

निगम आयुक्त ने यह दिया जवाब
रीवा के भाजपा सांसद जनार्दन मिश्रा के हमले को लेकर जब न्यूज 18 इंडिया ने निगम आयुक्त सभाजीत यादव से बात की तो उन्होंने बड़े सधे अंदाज में जवाब दिया. सभाजीत यादव ने उर्दू का मशहूर शेर पढ़ते हुए कहा, ‘कुछ तो मजबूरियां रही होंगी, वरना कोई बेवफा नहीं होता.’ रीवा नगर निगम के कमिश्नर ने सांसद के बयान को लेकर कहा, ‘मैं सांसद के बयान पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दूंगा. मैं नियमों के तहत अपना काम करता हूं. सांसद की अपनी कुछ परिस्थितियां रही होंगी. वे अपना काम कर रहे हैं और मैं अपना.’

Leave a Reply

%d bloggers like this: