तीन लोगों का चयन कर नशे से मुक्त होने के लियेे प्रोत्साहित करें, फिर उन्हें अन्य तीन लोगों को यही करने के लिये कहें, पूरा भारत नशे से मुक्त हो जायेगा – डाॅ राजकुमार मालवीय

विश्व तम्बाकू निषेध दिवस

सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा नशामुक्ति मैराथन दौड़ का हुआ आयोजन

भोपाल। आज आप सभी यह संकल्प लेकर यहां से जाये कि अपने आस पास के चिर-परिचितों, मित्रों, परिवारजनों को तम्बाकू, गुटके, बीड़ी, सिगरेट, शराब या अन्य मादक पदाथों का सेवन करने से रोकेंगे। ऐसे तीन लोगों को नशा छोड़ने के लिये प्रोत्साहित करेंगे। उन्हे मोटिवेट करेंगे और उन्हें नशाखोरी से मुक्त करके ही सांस लेंगें। जब वे नशा करना छोड दे, तम्बाकू खाना छोड़ दे तो उन्हें भी अगले तीन लागो को नशे से मुक्त करने की जिम्मेदारी सौंपे। यदि हमने इस मॉडल पर कार्य कर लिया तो भारत देश नशे से मुक्त हो जायेगा। यही हमारा नैतिक दायित्व और राष्ट्र कर्त्तव्य है। हमें इस मॉडल पर युद्ध स्तर पर कार्य करना होगा तभी हमारे द्वारा दिये गये वक्तव्यों और सरकार द्वारा आयोजित किये गये गये ऐसे जागरूकता कार्यक्रमों की सार्थकता होगी। सामाजिक न्याय एवं निशक्त जन कल्याण विभाग द्वारा आयोजित 35वें विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के जागरूकता कार्यक्रम के अवसर पर मुख्य अतिथी सामाजिक कार्यकर्ता, पर्यावरणविद्य और भाजपा झुझोप्र के प्रदेश कार्यालय प्रभारी डॉ राजकुमार मालवीय ने यह बात कहीं।
जागरूकता कार्यक्रम की शुरूआत विभागायुक्त डॉ. ई. रमेश कुमार द्वारा मैराथन दौड़ को हरी झण्डी दिखाकर की। उपस्थित पार्टिसिपेंटस को नशा न करने के लिये संकल्प दिलाया गया। ऐरोबिक्स एवं व्यायाम की विभिन्न गतिविधियां भी करवाई गईं।

Leave a Reply