यूक्रेन से अपने वतन भारत वापस पहुँची इटारसी की बेटी आयुषी बड़कुल|

नर्मदापुरम से अमित बनवारी की रिपोर्ट।

रोमानिया से आयुषी बडकुर इटारसी पहुंच गई हैं. रेलवे स्टेशन पर लेने आए पिता रामप्रकाश को देखकर भावुक हो गईं और गले लगकर रोने लगीं. आयुषी बुखारेस्ट से फ्लाइट मिलने के बाद दिल्ली आईं जहां से अपने नगर इटारसी पहुंची. आयुषी इटारसी के गांव साकेत की रहने वाली हैं, वह यूक्रेन के टेरनोपिल स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस थर्ड ईयर की पढ़ाई कर थीं. आयुषी ने भारत सरकार की सराहना करते हुए कहा रोमानिया की इंडियन एम्बेसी ने काफी मदद की.
वो यूक्रेन के हालत को बताते हुए सहम गईं. बताया कि वह दो दिन यूक्रेनियन बॉर्डर पर परेशान होती रहीं, माईनस 9 डिग्री टेम्परेचर में खुले आसमान के नीचे 48 घंटे गुजारने पडे़.आयुषी ने बताया कि वहां के हालत काफी खराब हैं…

आगे आयुषी ने बताया कि भारी मुसीबतों के बीच यूक्रेन बार्डर पार कर रोमानिया पहुँचने पर रोमानिया के स्थानीय निवासियों द्वारा ,सभी छात्र-छात्राओं की अभूतपूर्व सेवा और मदद की गई|
अब आयूषी अपने भविष्य को लेकर चितिंत है, आगे किस तरह की मदद उन्हें व यूक्रेन से वापस का रहे सभी छात्रों को मिलेगी इसके लिये आयूषी ने मोदी सरकार से विनती की है|
आयूषी के पिता एक बहूत छोटे किसान है, ऐसे मे सरकार से उन्हें किस तरह कि मदद मिलती है, ये देखने का विषय है|

आयुषी के पिता ने बताया कि भारत सरकार लगातार उनसे संपर्क मे थी|
आयुशी की घर वापसी से पर परिवार सहित इटारसी शहर मे खुशियाँ मनाई जा रही है|

Leave a Reply