मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने स्मार्ट उद्यान में सप्तपर्णी और पिंक केसिया का पौधा रोपा।

इस अवसर पर “Ask” संस्था के सदस्यों श्री रविन्द्र दांगी, श्री अनिमेश जैन एवं श्री अभी शर्मा ने भी मुख्यमंत्री श्री चौहान के साथ पौधारोपण किया।

कार्बन फूट प्रिंट को कम करने एवं साफ और शुद्ध जल एवं वायु पर कार्य करने की इच्छा के साथ संस्था के सदस्य एक हरित क्रांति का आगाज कर रहे हैं।युवाओं ने मुख्यमंत्री श्री चौहान को पर्यावरण संरक्षण की प्रेरणा देने वाला गीत भी सुनाया।

शहर के विभिन्न स्थानों पर नुक्कड़ नाटक, रैली, सेमिनार, डिबेट आदि गतिविधियां कर युवाओं को पर्यावरण के प्रति सजग बनाया है और नुक्कड़ नाटक के माध्यम से सार्वजनिक स्थानों पर पॉलीथीन का उपयोग न करने के संदेश देते हुए जागरूकता उत्पन्न की है।

कार्बन फूट प्रिंट को कम करने एवं साफ और शुद्ध जल एवं वायु पर कार्य करने की इच्छा के साथ संस्था के सदस्य एक हरित क्रांति का आगाज कर रहे हैं।युवाओं ने मुख्यमंत्री श्री चौहान को पर्यावरण संरक्षण की प्रेरणा देने वाला गीत भी सुनाया।

सप्तपर्णी, एक सदाबहार औषधीय वृक्ष है, जिसका आयुर्वेद में बहुत महत्व है। इस औषधीय पौधे का उपयोग विभिन्न दवाओं के निर्माण में किया जाता है।

केसिया को भारत में जंगली दालचीनी भी कहा जाता है। केसिया जावानिका की छाल और पत्तियों का उपयोग आयुर्वेदिक दवाएं बनाने में किया जाता है।

#OnePlantADay

Leave a Reply