पिछड़ा वर्ग कल्याण के कार्यक्रमों को पूरी ताकत से लागू करेंगे – मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पिछड़ा वर्ग सहित प्रदेश में रहने वाले सभी वर्ग के नागरिकों का कल्याण राज्य सरकार का उद्देश्य है। इस दिशा में समस्त बाधाओं को समाप्त कर लोगों केविकास के आवश्यक कदम निरंतर उठाए जाएंगे। पिछड़ा वर्गों को प्रतिनिधित्व सहित उनके अधिकार से जुड़े सभी कार्यों में लाभान्वित करने के प्रयास होंगे। इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार कृतसंकल्पित है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निवास पर विभिन्न पिछड़ा वर्ग संगठनों द्वारा किए गए उनके अभिनंदन के उत्तर में संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आवश्यक कानूनी प्रावधानों के साथ पिछड़ा वर्ग के हित में निकायों में आरक्षण सहित अन्य सभी कल्याणकारी कार्यक्रमों को पूरी ताकत से लागू किया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान का पिछड़ा वर्ग के मंत्री, सांसद और विधायकों की उपस्थिति में विभिन्न संगठनों ने पुष्पहार और अभिनंदन-पत्र के साथ सम्मान किया। सांसद श्री विष्णु दत्त शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में पिछड़ा वर्ग को पर्याप्त प्रतिनिधित्व के साथ ही योजनाओं से लाभान्वित करने का कार्य चल रहा है। मध्यप्रदेश इस क्षेत्र में अग्रणी है। जनजातीय विकास के क्षेत्र में भी मध्यप्रदेश की पहल राष्ट्रीय स्तर पर सराही गई है। जिलों में संगोष्ठियाँ आयोजित कर पिछड़ा वर्ग कल्याण के प्रयासों की जानकारी जनता तक पहुँचाई गई है। श्री शर्मा ने न्यायालय स्तर पर पंचायत चुनाव में पिछड़ा वर्ग को आरक्षण से संबंधित की गई कार्यवाही की विस्तार से जानकारी दी।

कार्यक्रम का संचालन सुश्री कविता पाटीदार ने किया। पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष श्री गौरीशंकर बिसेन, मंत्री श्री कमल पटेल, श्री रामखेलावन पटेल, डॉ. मोहन यादव, सांसद श्री शंकर लालवानी, विधायक श्रीमती कृष्णा गौर, श्रीमती लता वानखेड़े, पूर्व मंत्री श्रीमती ललिता यादव, श्री महेन्द्र हार्डिया, पिछड़ा वर्ग संगठनों से जुड़े श्री कुशवाह और श्री रणवीर सहित पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply