Pollution: छोटा तालाब में इस वजह से मृत मिली मछलियां

शिकायत पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भेजी टीम,दुकानदारों के फेंके अपशिष्ट से समस्या

छिंदवाड़ा/छोटा तालाब में कचरे से ऑक्सीजन की मात्रा घट जाने से मंगलवार को मृत मछलियां उतराते हुए मिली। इसकी शिकायत किए जाने पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम ने पहुंचकर जांच पड़ताल की। इस दौरान दुकानदारों द्वारा फेंके गए खाद्य पदार्थ अपशिष्ट से ऑक्सीजन की कमी होना पाया गया।
इस संबंध में बोर्ड अधिकारी बुधवार को नगर निगम से बातचीत करेंगे। दुर्गा चौक से लगे तालाब किनारे पर खाद्य पदार्थों की दुकानें लगती है। इन दुकानों से बच गए अपशिष्ट को तालाब में फेंक दिया जाता है। इसके साथ ही असामाजिक तत्व भी शराब पीकर बॉटल भी पानी में डाल देते हैं। खाद्य पदार्थ और लिक्विड के चक्कर में मछलियां इसका सेवन कर लेती है लेकिन इन पदार्थो से डिजॉल्व ऑक्सीजन कम हो जाती है। इसके अभाव में मछलियां दम तोड़ रही है। इन मृत मछलियों को तालाब किनारे उतराते हुए देखा गया। बोर्ड की टीम ने भी पानी के सेम्पल लेकर ऑक्सीजन की कमी होना पाया। छोटा तालाब में ऑक्सीजन की कमी की रिपोर्ट मिलने पर बोर्ड क्षेत्रीय अधिकारी डॉ.अविनाश चंद्र करेर ने कहा कि तालाब में अपशिष्ट पदार्थ फेंके जाने से यह स्थिति बनी है। इस पर निगम अधिकारियों से पर्याप्त सफाई के लिए बातचीत करेंगे। साफ पानी होने पर ही इस समस्या का निराकरण होगा।

,

Leave a Reply