मगंलवार को जनसुनवाई में 40 आवेदन प्राप्त हुए
आवेदनों का तत्काल निराकरण सकारात्मक रूप से करें-कलेक्टर

झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा जनसुनवाई में प्राप्त आवेदन का निराकरण सकारात्मक रूप से किए जाने के निर्देश दिए है। आज डिप्टी कलेक्टर डॉ. श्री अभयसिह खराडी द्वारा मंगलवार को जनसुनवाई में 40 आवेदन प्राप्त किए। जिसमें प्रार्थी श्री भूरसिंह निवासी ग्राम पिपलखूंटा छोटी के अनुपूरा तहसील मेघनगर जिला झाबुआ के द्वारा पेंशन हर महिने नहीं मिलने के कारण आवेदन प्रस्तुत किया गया, प्रार्थी श्रीमती अजिजा बी पिता श्री मुजफर खॉ निवासी रंभापुर ग्राम पंचायत रंभापुर तहसील मेघनगर के द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत मकान निर्माण में अधुरा कार्य पूर्ण करवाने हेतु एवं अंतिम किस्त का भुगतान करने एवं रोजगार सहायक के द्वारा 50 हजार रूपए दिलवाए जाने बाबत आवेदन प्रस्तुत किया गया, प्रार्थी श्री पुना पिता श्री लालू निवासी ग्राम साढ़ तहसील रामा जिला झाबुआ के द्वारा राजस्व में चिन्हित ग्राम सात उमरा फलिया में सड़क बनवाए जाने के संबंध में आवेदन प्रस्तुत किया गया, प्रार्थी श्री हरपाल पिता श्री बिजिया कटारा निवासी ग्राम गुलरीपाडा के द्वारा प्रार्थी के मकान में आग लग जाने के कारण मुआवजा दिलवाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया, प्रार्थी श्री चन्द्रशेखर जैन निवासी रानापुर द्वारा गृह निर्माण के संबंध में उचित प्रीमियम राशि जमा कराने व समिति द्वारा आवंटित किए गए भू-खण्डों का कब्जा दिलाने के संबंध में आवेदन प्रस्तुत किया, प्राथी श्री भीमसिंह निवासी किशनपुरी जिला झाबुआ द्वारा दुग्ध डेरी द्वारा रास्ता बन्द करवाने के संबंध में आवेदन प्रस्तुत किया गया, प्रार्थीगण समस्त ग्रामवासी ग्राम कोदली ग्राम पंचायत कोदली विकास खण्ड पेटलावद जिला झाबुआ द्वारा ग्राम पंचायत सरपंच एवं सचिव एवं रोजगार सहायक द्वारा ग्रामीणजनों को ग्रामीणजन के कार्य के लिए काफी परेशान करने एवं कार्य नहीं करने तथा शासकीय योजना में आए कुए को जंगल में बनाने के संबंध में आवेदन प्रस्तुत किया गया।
आज जनसुनवाई में श्री खराडी द्वारा निर्देश दिए गए कि सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर 7 दिवस के अन्दर प्राप्त प्रकरणों का निराकरण करे एवं इन आवेदन पत्रों की समीक्षा टीएल की बैठक में होगी। जनसुनवाई में जिला अधिकारी एवं शेष एस.डी.एम. राजस्व एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, समस्त तहसीलदार, वीडियो कांफ्रेन्सिंग के माध्यम से जुडे़ थे।

Leave a Reply