स्वर्गीय यशवंत घोड़ावत की अष्टम पुण्यतिथि पर पत्रकारों के महासम्मेलन का हुआ आयोजन

झाबुआ. जिला पत्रकार संघ की मेघनगर इकाई द्वारा स्वर्गीय यशवंत जी घोड़ावत (दादा) की अष्टम पुण्यतिथि पर बाफना आश्रय, ओवर ब्रिज के सामने मेघनगर में पत्रकारों का महासम्मेलन कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में शिव गंगा अभियान के संस्थापक व पदमश्री महेश जी शर्मा, पारस जी सकलेचा शिक्षाविद रतलाम, विनोद बाफना समाजसेवी मेघनगर, आशीष दशोत्तर साहित्यकार रतलाम, रिंकू जैन समाज सेवी मेघनगर उपस्थित हुए और इनके साथ मंच पर जिला पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष राजेश सोनी, पूर्व जिलाध्यक्ष संजय भटेवरा, मेघनगर इकाई के जिलाध्यक्ष राजेंद्र सिंह सोनगरा भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम की शुरुआत राष्ट्रीय गान की धुन के साथ किया गया. तत्पश्चात अतिथियों द्वारा मां सरस्वती का दीप प्रज्वलित कर माल्यार्पण किया उसके बाद अतिथियों का स्वागत पुष्पमाला भेंट कर किया गया. अतिथियों के स्वागत करने का मौका कार्यक्रम में उपस्थित सभी पत्रकारों को मिला। वरिष्ठ पत्रकार हरि शंकर पवार द्वारा उपस्थित अतिथियों का विस्तार से उनकी अनुभूतियों का परिचय करवाया जिलाध्यक्ष राजेश सोनी द्वारा स्वागत भाषण के दौरान उपस्थित अतिथियों का बड़ी विनम्रता के साथ बड़े सहज भाव से वर्णन किया साथ ही पत्रकारों की एकता के लिए संगठन के उद्देश्यों पर भी प्रकाश डाला पत्रकारों को किसी भी प्रकार की समस्या आने पर संगठन द्वारा मदद करने की बात भी कही अगली कड़ी में उदयीमान पत्रकारिता सम्मान 2021-22 के लिए वरिष्ठ पत्रकार वीरेंद्र सिंह राठौर का सम्मान कर भेंट स्वरूप शील्ड व प्रशस्ति पत्र का वाचन कर प्रदाय किया गया आजीवन पत्रकारिता सम्मान 2021-22 के लिए वरिष्ठ पत्रकार महेश जानी व सर्वकालिक संघर्षशील पत्रकारिता सम्मान 2021-22 के लिए वरिष्ठ पत्रकार सुभाष बाफना के पुत्र को भी सम्मान के साथ भेंट स्वरूप शील्ड व प्रशस्ति पत्र पैदा किया गया. तत्पश्चात उद्बोधन के दौरान विनोद बाफना ने पत्रकारों की दक्षता वहां पर आने वाली परेशानियों को बड़े रंगीले भाव में प्रस्तुत किया. मुख्य अतिथि युवाम संरक्षक व शिक्षाविद पारस सकलेचा ने सुनियोजित ढंग से किए जा रहे दुष्प्रचार पर भी विस्तार से प्रकाश डाला साथ ही आरटीआई एक्ट, व्यापम घोटाला, पत्रकारों की कार्यशाला पर जोर देने की बात भी कही उन्होंने इसके लिए संगठन के जिलाध्यक्ष को प्रेरित भी किया मुख्य अतिथि आशीष दशोत्तर ने भी ग्रामीण क्षेत्र के पत्रकारों पर आने वाली चुनौतियों के साथ संघर्ष पर भी विस्तार से अवगत कराया. शिव गंगा अभियान के संस्थापक व पदम महेश शर्मा ने संविधान, कार्यपालिका, न्यायपालिका, पर चर्चा के दौरान बताया कि वर्तमान में विधायिका तो कमजोर हो रही है. वही कार्यपालिका अपने हिसाब से कार्य कर रही है. उदाहरण स्वरूप उनके निवास स्थान के ग्राम 2 सालों से इंटरनेट कनेक्शन नहीं जोड़ने की बात कही, उन्होंने यह भी बताया कि कि मेरी स्वयं की उच्च स्तरीय पकड़ है उसके बाद अगर मेरा कार्य नहीं हो रहा है तो आम जनता के क्या हाल होते होंगे इसके लिए आपको अपनी कलम को मजबूत करना है देश की आजादी में भील समाज के सहयोग पर भी विस्तार से प्रकाश डाला कार्यक्रम के अंतिम में वरिष्ठ पत्रकार थांदला के कुंदन जी अरोरा की आत्मा की उज्जवल कामना के लिए 2 मिनट का मौन भी रखा गया और अंत में आभार के रूप में मेघनगर इकाई के जिलाध्यक्ष श्री राजेंद्र सिंह सोनगरा ने अपने आत्मीय भाव से प्रेम स्वरूप सभी अतिथियों, जिलेभर से सभी स्थानों से आए पत्रकार साथियों का भाव भीनी आभार वंदन किया अपने उद्बोधन के दौरान सभी अतिथियों ने आज के कार्यक्रम की, पत्रकारों की एकाग्रता, की भी भरपूर प्रशंसा की आज के कार्यक्रम में थांदला, खवासा, बामणिया, पेटलावद, सारंगी, रायपुरिया, भगोर, कल्याणपुरा, झाबुआ, पिटोल, परवलिया, अग्रवाल आदि और अन्य कई स्थानों से पत्रकार साथी उपस्थित हुए.

Leave a Reply