टीएल बैठक में पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों का निराकरण के दिए निर्देश

झाबुआ।कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में समयावधि पत्र (टीएल) की बैठक आयोजित की गई। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन उपस्थित थे। बैठक में श्री मिश्रा ने सभी जिला अधिकारियों को निर्देश दिए की पोर्टल पर दर्ज टीएल प्रकरणों का निराकरण प्रतिवेदन प्रति शुक्रवार तक अनिवार्य रूप से दर्ज किया जावे एवं प्रतिवेदन भी प्रस्तुत किया जावे। इसके पश्चात ही टीएल पत्र की सूची में से इसे विलोपित किया जावेगा। इस हेतु नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर सुश्री विशा वादवानी को प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जावे। जिले में झोलाछाप डाक्टरों के विरूद्ध में कार्यवाही सुनिश्चित करें। कोरोना काल में दिगवंत हुए 54 शिक्षकों के संबंध में जो प्राचार्य जानकारी प्रस्तुत नहीं कर रहे है। उनके निलंबन के प्रस्ताव तैयार किए जाए। विभागों में लम्बित विभागीय जांच के लिये एक निश्चित समय सीमा का पालन सुनिश्चित करें अन्यथा कार्यालय प्रमुख के विरूद्ध कार्यवाही की जावेगी। ग्रामीण क्षेत्रों में जो अतिक्रमण है उन्हे तत्काल हटावे। जो भी जिला अधिकारी मेरे पास फाईल लेकर आते है उस समय सीएम हेल्पलाइन के वे प्रकरण जो 300 दिवस से अधिक के लंबित है वह साथ लेकर आए। यदि 300 दिवस के प्रकरण लंबित नहीं हैं तो 100 दिवस से अधिक लंबित प्रकरणों की जानकारी भी अनिवार्य रूप से लावे।
बैठक में जनसुनवाई, सीएम हेल्पलाईन 100 दिवस से अधिक एवं 300 दिवस से अधिक लंबित प्रकरण, माननीय प्रधानमंत्री जी एवं माननीय मुख्यमंत्री जी को प्रस्तुत आवेदन, इसके अतिरिक्त विभागीय गतिविधियों के बारे में कलेक्टर महोदय, द्वारा चर्चा की गई।
इस दौरान अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री सोहन कनाश, डिप्टी कलेक्टर श्री अभय खराडी, डिप्टी कलेक्टर सुश्री विशा वाधवानी, डिप्टी कलेक्टर सुश्री अंकिता प्रजापति, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. श्रीI #uजे.पी.एस.ठाकुर, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा एवं जिले के सभी अधिकारी उपस्थित थे।
संदेश- दो गज की दूरी, मॉस्क है जरूरी। जीतेगा झाबुआ, हारेगा कोरोना।

Leave a Reply