‘प्रशासन आपके द्वार‘‘ कलेक्टर एवं जिला अधिकारी पहुंचे, 42 आवेदन पत्रों का शिविर स्थल पर निराकरण किया गया।

झाबुआ । जिला प्रशासन की एक अभिनव पहल ‘‘प्रशासन आपके द्वार‘‘ जिसके अंतर्गत चयनित दुरस्त ग्राम में प्रति सप्ताह पहुंच कर ग्रामीणों की समस्या का निराकरण स्थानीय स्तर पर ही किया जाना एवं ग्रामीणों को विभिन्न विभागों द्वारा संचालित की जाने वाली योजनाओं से रूबरू करवाना एवं ग्रामीणों को विभिन्न विभागों की योजनाओं का लाभ किस तरह प्राप्त हो रहा है। इसकी समीक्षा इस शिविर में की गई। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा द्वारा इस अभिनव पहल का मुख्य उद्देश्य ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण एवं विभागीय योजनाओं से अवगत कराना था। इस हेतु विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी एवं थांदला अनुभाग के अधिकारी शुक्रवार को ग्राम सागवा में उपस्थित हुए। कलेक्टर श्री मिश्रा ने ग्रामीणों से रूबरू चर्चा की एवं उनकी समस्याओं को सुना एवं उनकी समस्याओं का शिविर में ही निराकरण किया एवं ग्राम वासियों को टीकाकरण के लिये प्रेरित किया। जिन लोगों ने टीका लगवा लिया है उन्हे बधाई दी एवं जिनके द्वारा टीका नहीं लगवाया गया है उन्हे तत्काल लगाए जाने के लिये कहा गया। शिविर स्थल के समीप ग्राम पंचायत सागवा में टीकाकरण की व्यवस्था की गई थी एवं यहां पर आयुष्मान कार्ड बनाने की व्यवस्था की गई थी। यहां पर ग्रामीणों के द्वारा मुख्य रूप से सड़क निर्माण के लिए लोगों द्वारा अवगत कराया गया। कलेक्टर श्री मिश्रा ने संबंधितों को तत्काल वहीं तलब किया एवं निर्देश दिए की सोमवार तक सड़क की टीएस, एएस जारी कर कार्य प्रारम्भ कर दिया जाए। यदि किसी को आपत्ति हो तो इसका भी निराकरण किया जाए। ग्राम वासियों की बहुत ही लम्बे समय से यह मांग थी। जिसका निराकरण नहीं हो पा रहा था। आज शिविर में इसका निराकरण होने पर ग्रामीणों में खुशी की लहर फैल गई। श्री मिश्रा ने कहा कि हम आपकी समस्याओं का निराकरण करने के लिए ही आपके गांव में आए हैं। आपको झाबुआ नहीं आना पडे इसके लिए प्रशासन स्वयं आपके द्वार पर उपस्थित है। आपकी जो भी समस्याए है उनका निराकरण के लिए आगे आए। इस दौरान कलेक्टर महोदय को ग्रामीणों के द्वारा 142 आवेदन पत्र प्रस्तुत किए गए। जिसमें से 42 आवेदन पत्रों का कलेक्टर महोदय द्वारा शिविर में ही निराकरण कर दिया गया। कलेक्टर महोदय द्वारा शिविर स्थल के समीप मंदिर प्रांगण में वृक्षारोपण भी किया।

Leave a Reply