बंगला बगीचा संघर्ष समिति के सदस्यों ने की प्रभारी मंत्री से मुलाकात
प्रभारी मंत्री ने भी दिया आश्वासन

नीमच -नीमच शहर की सबसे पुरानी समस्या बंगला बगीचा समस्या को लेकर बंगला बगीचा संघर्ष समिति के बैनर तले बंगला बगीचा वासियों ने प्रभारी मंत्री से डाक बंगले पहुंच रात लगभग 10:30 बजे मुलाकात की । 8:00 बजे के लगभग बड़ी संख्या में बंगला बगीचा वासी डाक बंगले पहुंच गए थे जैसा ही मौके पर अत्यधिक भीड़ होने की सूचना पुलिस को मिली तो नीमच सिटी थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और उनके द्वारा यह बतलाया गया कि यहां धारा 144 लागू है कृपया भीड़ भाड़ ना करें तो बंगला बगीचा वासियों द्वारा दो डेलिगेशन बनाकर प्रभारी मंत्री महोदय के सामने बांग्ला बगीचा समस्या के व्यवस्थापन में आ रही व्यवहारिक एवं कानूनी कठिनाइयों को रखा जिस पर प्रभारी मंत्री महोदय द्वारा बंगला बगीचा वासियों को इस बात का आश्वासन दिया गया कि आपकी बातों पर विचार किया जाएगा और लीगल टीम से संबंध में राय ली जाएगी । 30 मई की डेडलाइन को लेकर मुख्य नगरपालिका अधिकारी को किसी भी प्रकार के निर्देश देने से प्रभारी मंत्री महोदया ने साफ मना कर दिया जिस पर बंगला बगीचा वासी काफी निराश एवं आक्रोशित दिखे ।
बंगला बगीचा संघर्ष समिति के सदस्य एडवोकेट अमित शर्मा द्वारा बताया गया कि जब डाक बंगले पर बड़ी संख्या में बंगला बगीचा वासी उपस्थित थे उस दौरान नीमच क्षेत्रीय विधायक दिलीप सिंह परिहार भी मौके पर पहुंचे परंतु उनके द्वारा बंगला बगीचा वासियों से बात करने तक की जहमत नहीं उठाई गई जिससे यह स्पष्ट है कि उनकी नजरों में बंगला बगीचा वासियों की कोई अहमियत नहीं है बंगला बगीचा वासियों को अपनी आवाज स्वयं उठानी पड़ेगी । बंगला बगीचा संघर्ष समिति द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि प्रत्येक बंगले बगीचे एवं खेत में जाकर आमजन को इस समस्या के प्रति जागरूक करना पड़ेगा एवं समाधान नहीं तो वोट नहीं के स्लोगन के बोर्ड हर बंगले, बगीचे, खेत में लगाए जाएंगे इसके लिए जागरूकता अभियान चलाया जाएगा ।

About Surendra singh Yadav

View all posts by Surendra singh Yadav →

Leave a Reply