ईमानदार एस पी सूरजकुमार वर्मा की लगाम के बाद भी नहीं सुधर रहा है ढर्रा, नयागांव चौकी में 2 क्विंटल डोडाचूरा में कर दिया 22 पेटी का खेल, गिरफ्तार आरोपी ने खोली पोल, बोला साहब नाम निकालने के गिरवाल और अन्य को दे चुका है पैसा, फिर भी मुझे क्यों धर लिया

नीमच। नयागांव पुलिस ने 23 फरवरी को 2 क्विंटल डोडाचूरा की खेप पकडी थी। इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी को मय ट्रक और डोडाचूरा के साथ गिरफ्तार किया था। जांच में खुलासा हुआ कि एक ढाबे वाले कैलाश ने उक्त डोडाचूरा भरवाया था। बताया जा रहा है कि पुलिस ने कल उसे गिरफ्तार किया तो तोडबटटे के खेल की पोल खुल गई। आरोपी चिल्ला चिल्ला कर बोला कि मैरा नाम निकवालने की ऐवज मौटी रकम दी गई थी। करीब 22 पेटी का खेल हुआ। तत्कालीन चौकी प्रभारी परमानंद गिरवाल सहित तीन आरक्षकों की भूमिका संदिग्ध बताई जा रही है। इस मामले में ईमानदार एसपी सूरजकुमार वर्मा तुरंत संज्ञान लिया है और मामले की जांच बैठा दी है।

एनडीपीएस एक्ट के तोडबटटो के मामले में चर्चित रह चुका है जिला, सीएम तक पहुंचा था मामला, तत्कालीन एसपी मनोजकुमार राय को तुरंत हटाया था, ईमानदार एसपी सूरजकुमार वर्मा पुलिस की छवि सुधारने में लगे हुए है, उन्होंने आते से ही सभी पुलिस अधिकारियों को दिशा निर्देश दे दिए थे कि एनडीपीएस एक्ट के मामले हो या फिर और कोई। पुलिस पूरी पारदर्शिता के साथ कार्रवाई करें, कोई भी अगर शिकायत आई और वह सही पाई गई तो किसी को बक्शा नहीं जाएगा। विदित है कि बीते कुछ सालों में पुलिस ने खूब तोडटटे किए, एक तरह से पैसो की जमकर बारिश हुई, कौन सही है और कौन गलत। इसकी जांच कौन करें, सभी को तोडबटटे से मिलने वाली मौटी रकम की हिस्सेदारी की फिक्र थी, डेढ साल में नीमच जिले में इतना ढर्रा बिगडा कि सीएम को ऐक्शन लेना पडा। अब ईमानदार एसपी श्री वर्मा बेहतरीन पुलिसिंग के जरिए आम जनता में अच्छा संदेश पहुंचा रहे है, वहीं तोडबटटे में माहिर पुलिस अधिकारी और कर्मचारी कमाल दिखाने से बाझ नहीं आ रहे है।

Leave a Reply