दवा कारोबारियों ने कहा- हमें लगाए कोरोना का टीका

DG NEWS SEHORE

सीहोर से सुरेश मालवीय की रिपोर्ट

सीहोर । जिला दवाई एसोसिएशन के तत्वाधान में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से संबोधित एक ज्ञापन एसडीएम और कलेक्टर को सौंपा है। सीहोर जिला दवा संघ के जिलाध्यक्ष ओम राय व महासचिव उमेश शर्मा ने कहा कि दवा करोबारियों ने कोरोना वैक्सीनेशन की वरीयता सूची में शामिल करने की मांग उठाई है। इसे लेकर संगठन के माध्यम से प्रधानमंत्री को पत्र लिखा गया है, जिसमें कहा गया है कि कोरोना संक्रमण के दौरान वे भी फ्रंट वारियर्स की भूमिका में रहे। जरूरतमंदों को लॉकडाउन अवधि में भी दवा उपलब्ध कराई गई। साथी कोरोना संक्रमित भी हो गए। बावजूद वे दवा वितरण करते रहे। इसलिए केंद्र सरकार दवा विक्रेताओं को भी वरीयता सूची में शामिल करें। जिला दवाई एसोसिएशन ने कहा मध्यप्रदेश में आपके निर्देश में कोविड 19 वैक्सीनशन का सफलतापूर्वक सुनियोजित तरीके से विभिन्ना श्रेणियों में नामांकित व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा रहा है। इसके लिए आप और मध्यप्रदेश शासन बधाई के पात्र है। सफाईकर्मी, आशा, उषा कार्यकर्ता, एनजीएम, जीएनएम, समस्त डॉक्टर्स, आयुष डॉक्टर्स, प्राइवेट नर्सिंग होम व क्लिनिक में कार्यरत समस्त स्टाफ, हेल्थ वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स, समस्त मंत्रीगण, सांसद, समस्त उच्चाधिकारी सभी का कोविड 19 का टीकाकरण किया जा रहा है, जो कि हमारे लिए अत्यंत गर्व का विषय है, लेकिन अफसोस या दुख इस बात का है कि केमिस्ट दवा विक्रेता को कोविड 19 टीकाकरण के लिए किसी भी श्रेणी में शासन द्वारा नामांकित नही किया गया। जिनके द्वारा कोविड कॉल में अपनी अनवरत सेवाएं प्रदान की गई। लॉक डाउन कर्फ्यू में ह्रदय रोगियों, शुगर पेशेंट, कैंसर पेशेंट, गंभीर बीमारियों से पीड़ित पेशेंट असहाय, असमर्थ, उम्रदराज को उनके घर पर जाकर आवश्यक दवाएं उपलब्ध करवाई गई। उनकी जान बचाने में अपनी महती भूमिका अदा की गई। जब सारे नर्सिंग होम अथवा डॉक्टर्स ने अपनी सेवाएं बंद कर रखी थी। तब पेशेंट का एक ही सहारा केमिस्ट था, जिसने अपना फर्ज पूरी तरह से निभाया और सेवाकाल में हमारे कई केमिस्ट कोराना की चपेट में आकर कलकलवित हो कर कोराना योद्धा के रूप में शहीद हो गए। जिसमें से कई केमिस्ट का परिवार उन्हीं के ऊपर आश्रित था, लेकिन हमारे द्वारा या हमारे संगठन के द्वारा कभी भी आश्रित परिवार की सहायता के लिए शासन से कभी कोई गुहार नहीं लगाई गई

समस्त केमिस्ट को नामांकित किया जाए

सीहोर जिला दवा विक्रेता संघ एवम प्रदेश संगठन द्वारा आश्रितों को जो मदद की जा सकती थी अपने स्तर पर प्रदान कि गई। शासन द्वारा केमिस्ट के द्वारा कोविड 19 में प्रदान की गई उत्कृष्ट सेवाओं को दरकिनार कर दिया गया अथवा उसे टिकाकरण योग्य किसी भी श्रेणी में नामंकित नहीं करते हुए उसे नजरअंदाज किया जा रहा है। फलस्वरूप समस्त केमिस्ट समुदाय में इस विषय को लेकर शासन की बेरुखी से मायूस हैं। मुख्यमंत्री से मांग करते है कि केमिस्ट के द्वारा दी गई सेवाओ को आपके द्वारा यथोचित सम्मान मिले व कोविड 19 वैक्सीनशन के लिए समस्त केमिस्ट को नामांकित किया जाए, ताकि प्रत्येक केमिस्ट नई ऊर्जा के संचार के साथ वह अपनी स्वाथ्य सेवाएं और बेहतर आदर्शों के साथ प्रदान कर समाज को स्वस्थ्य रखने में अपनी महती भूमिका अदा कर सके।

Leave a Reply