जयं अम्बे प्राइवेट कम्पनी के विरूद्ध 108 एंबुलेंस चालक/इएमटी कर्मचारियों ने सौंपा ज्ञापन

DG NEWS SEHORE

सीहोर से सुरेश मालवीय की रिपोर्ट 8871288482

सीहोर । मध्यप्रदेश में संचालित 108 एंबुलेंस जिसमें जिले में कार्यरत कर्मचारी चालक / इएमटी (इमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन) द्वारा कोविड -19 में कोरोना योद्धा के रूप में कार्य किया है और सरकार के नियमों का पालन करते हुए पीपीई किट पहनकर अपने जीवन की बिना परवाह किए कार्य किया है । 108 एंबुलेन्स के नए टेंडर निकाले गए थे जिसमे टेंडर जय अंबे प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को मिला है, जब इस कंपनी में सभी कर्मचारियों के ज्वानिंग की बात आई तो अवैध वसूली के नाम पर प्रत्येक कार्यरत कर्मचारी से 17550 रूपए जय अंबे कंपनी द्वारा वसूला जा रहा है , जो अवैध है और कर्मचारी हित में कतई नहीं है। अवैध वसूली से सरकार की छवि भी खराब हो रही है। मध्य प्रदेश में सरकार द्वारा अभियान चलाकर रोजगार प्रदान किया जा रहा है, परन्तु यहां पर बेरोजगारों से रोजगार के नाम पर पैसा वसूला जा रहा है। अवैध वसूली की जा रही है जिसे तत्काल रोकना अतिआवशयक है एवं जय अंबे कंपनी पर कार्यवाही करते हुए अनुभवी कर्मचारियों से ज्वानिंग के नाम पर 11550 की डीडीए एवं 6000 रूपये वेतन से कटौत्री के नाम पर अवैध वसूली जो की जा रही है। इस अवैध वसूली को तत्काल रोका जाए एवं अनुभवी कर्मचारियों को तत्काल ज्वानिंग देने के आदेश जारी किये जावे।

ज्ञापन सौंपने वालों में सोहन कुमार सेन, सुनील मीणा, सुनील मेवाड़ा, अजब सिंह ठाकुर, नरवत सिंह कलमोदिया, विष्णु, सुरेन्द्र सोलंकी, मनीष यादव, सुनील चौहान, ज्ञान सिंह वर्मा, शिव वर्मा, दीपक श्रीवास्तव, सुभाष सेन, महेन्द्र वर्मा सहित 108 एम्बुलेंस कर्मचारी उपस्थित रहे।

About सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS

View all posts by सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS →

Leave a Reply