घायल अवस्था में मिली लड़की, इलाज के बाद भेजा इंदौर

DG NEWS SIDDiGANJ

सीहोर से सुरेश मालवीय की रिपोर्ट

सिद्दीगंज । सीहोर व देवास बार्डर के गांव के जंगल में सुबह एक युवती को अर्धनग्न अवस्था में पड़ा हुआ ग्रामीणों ने देखा। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर सिद्दिकगंज पुलिस पहुंची। चूंकि मामला देवास जिले के क्षेत्र का होने के कारण से देवास जिले की पुलिस भी पहुंची, युवती को देवास ले जाया गया। बताया जा रहा है, वहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे इंदौर के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां वह मौत और जिंदगी के बीच संघर्ष कर रही है। जानकारी के अनुसार सिद्दिकगंज थाने की सीमा से देवास जिले की सीमा भी सटी हुई है। यह मामला देवास जिले के ग्राम घूसट के जंगल में सामने आया है, जहां सुबह लोगों ने लहुलुहान अर्धनग्न अवस्था में एक युवती जिसकी उम्र करीब 25 साल बताई जा रही है, को ग्रामीणों ने देखा। इसकी सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी तो मौके पर सिद्दिकगंज थाने की पुलिस व देवास जिले की पुलिस पहुंची। चूंकि मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने जहां युवती एम्बूलेंस की सहायता से उपचार के लिए भेजा, वहीं जांच पड़ताल शुरू की, लेकिन घटना स्थल के आसपास के गांव वालों से पूछताछ में उस युवती की पहचान नहीं हो सकी, इससे यह माना जा रहा है कि युवती आसपास के किसी गांव की नहीं है, उसे यहां लाकर फेंका गया है या फिर घटना को यहीं अंजाम देकर आरोपित मौके से फरार हुए हैं।

जंगल छान रही है पुलिस

युवती बेहोश और जिस हालत में मिली, उससे यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि उसके साथ किसी बड़ी घटना को अंजाम दिया गया है। इस घटना को अंजाम देने के बाद आरोपितों ने उसकी हत्या करने की कोशिश की या फिर उसे मरा समझकर जंगल में छोड़कर भाग खड़े हुए, हालांकि जानकारी के मुताबिक सिद्दिकगंज पुलिस के साथ देवास भी घटना स्थल के आसपास के जंगल में सर्च अभियान चला रही है। फिलहाल इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। सिद्दिकगंज थाना प्रभारी कमल सिंह ठाकुर ने बताया कि मामला देवास जिले में आता है, लेकिन घटना स्थल थाना क्षेत्र से सटा है इसलिए मौके पर पहुंचे थे।

Leave a Reply