विधायक सुदेश राय ने विस में उठाया जिले के 34,611 किसानों का मुददा सरकार ने शुरू कराई पोर्टंल में यूटीआर नम्बर अटेच कराने की कार्यंवाही

अंशय बड़गुर्जर :-

जिला सहकारी बैंक की १३ शाखाओं में हुई थी गड़बड़ी
प्रीमियम लेने के बाद भी नहीं दी थी फसलों की बीमा राशि

कृषक हितैशी विधायक सुदेश राय के सवाल का मंत्री अरविंद भदौरिया ने दिया जबाव

कृषक हितैशी विधायक सुदेश राय ने विधासभा में जिले के किसानों का मुददा उठाया। जिस के बाद यूटीआर नम्बर अटेच कराने की कार्यंवाही बैंक शाखाओं के द्वारा अब शु़रू की जा रहीं है। विधायक सुदेश राय की तत्परता से प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से बंद किया गया पोर्टंल शुरू कराया है लेकिन विधायक सुदेश राय जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यांदित सीहोर के लापरवाह अधिकारियों कर्मचारियों को सरलता से छोडऩे के पक्ष में नहीं है। किसानों के प्रति लापरवाह इन अधिकारियों कर्मचारियों के कारण जिले के 34,611 किसानों को मुश्किलों को सामना करना पड़ा है। हालाकी विधायक सुदेश राय के विशेष प्रयासों से श्यामपुर क्षेत्र के 2507 हजार किसानों को बीमा क्लेम मिल चुका है तो इधर अहमदपुर क्षेत्र के 3114 हजार किसानों बीमा राशि मिलनी शुरू हो चुकी है।

विस में विधायक के द्वारा पूछे गए सवाल

विधायक सुदेश ने वर्ष 2019 में खरीफ सीजन में खराब हुई फसलों की कितनी प्रीमियम राशि किन-किन जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक शाखाओं द्वारा कृषकों के खातों से काटी गई है समिति वार बैंक शाखावार, कृषकों की संख्यावार राशि सहित बताने के लिए कहां। उन्होने काटी गई राशि निश्चित समय में बीमा कंपनी को ट्रान्सफर नहीं किये जाने के पीछे क्या कारण है यह भी पूछा। बैंक प्रबंधन की इतनी बड़ी गलती के लिए कौन-कौन अधिकारी एवं कर्मचारी जिम्मेदार है और काटी गई राशि का क्या हुआ । केन्द्र सरकार की योजना का लाभ किसानों को समय पर नहीं मिला इस के लिए जिम्मेदार जिला सहकारी बैंक के अधिकारियों कर्मचारियों के खिलाफ क्या कार्रवाही की गई।

मंत्री भदौरिया ने दिए विधायक के सवालों के जबाव

विधायक सुदेश राय के सवालों के जबाव देते हुए मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया ने कहा की प्रीमियम राशि जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यांदित सीहोर द्वारा निर्धांरित समय पर बीमा कम्पनी को भेजी गई थी, लेकिन फसल बीमा पोर्टंल पर बैंक की 13 शाखाओं के 34,611 किसानों की जानकारी की प्रविष्टि करते समय प्रीमियम राशि भेजे जाने के यूटीआर नम्बर अटेच नहीं किए गए। जिस कारण किसानों को बीमा क्लेम प्राप्त नहीं हुये है। श्री भदौरिया ने कहा की काटी गई राशि बीमा कम्पनी के पास है तथा भारत सरकार के पोर्टंल में यूटीआर नम्बर अटेच कराने की कार्यंवाही प्रक्रियाधीन है। योजना का लाभ समय पर नहीं मिलने का मुख्य कारण यूटीआर नम्बर अटेच नहीं होना है जिस के लिए उत्तरदायी शाखा प्रबंधकों को नोटिस जारी किए गए है। इस मामले में स्पष्टीकरण मांगे गये हैं, जबाव प्राप्त होने पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

आखिर किसानों के साथ क्यों किया एैसा भेदभाव

विधायक सुदेश राय ने कहा की श्यामपुर बैंक शाखा से जुड़े सभी 2507 किसानों को बीमा क्लेम मिल जाता है लेकिन अहमदपुर बैंक शाखा के 3,114 किसानों को प्रीमियम राशि काटे जाने के बाद भी बीमा क्लेम नहीं मिलता है जबकी एक समय पर हीं सभी किसानों के बैंक खातों से प्रीमियम की राशि काटी गई फिर किसानों के मध्य भेदभाव क्यों किया गया। एैसा प्रतीत होता है की बैंक प्रबंधन के द्वारा जानबूझकर एैसा किया गया है। केंद्र सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना का लाभ समय किसानों को नहीं मिला है जिस कारण किसानों ने अपने आप को ठगा महसूस किया। विधायक सुदेश राय ने कहा की गांवों में जब और भी विगट स्थिति पैदा होती है जबकी कुछ किसानों बीमा राशि मिलती है और अनेक किसानों को नहीं मिलती है। बैंक के महा प्रबंधक एवं प्रबंधकों की जिम्मेJदारी बनती है। अबतक सहीं कार्रवाही नहीं किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है।

पत्रकार अंशय बड़गुर्जर के साथ कैमरामेन राजा ठाकुर
ख़बरों एवं विज्ञापनो के लिए संपर्क करें
मो. 7440953729, 81036 75337

Leave a Reply