क्लस्टर विकास का कार्य तय समय-सीमा में करें- मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan


मुख्यमंत्री ने की Department of MSME, Madhya Pradesh की समीक्षा

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भारत सरकार के क्ल्स्टर विकास कार्यक्रम में समय-सीमा में कार्य करें। बेटका खुर्द इंदौर में फर्नीचर क्लस्टर शुरु करायें। मुख्यमंत्री श्री चौहान मंगलवार को मंत्रालय में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विभाग की समीक्षा कर रहे थे। सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री श्री Omprakash Sakhlecha , मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि एमएसएमई की उपलब्धियाँ पूरे देश की पहचान बनें। स्टार्ट-अप के लिए तेजी से प्रयास करें। राज्य क्लस्टर योजनांतर्गत क्लस्टर के प्रस्ताव तैयार कर लिये जायें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि एमएसएमई इकाइयों को निर्यात मूलक बनाने के तेजी से प्रयास हों। मार्केटिंग संभावनाओं को तलाशने का कार्य करें। “एक जिला-एक उत्पाद” योजना में संभावनाओं को पहचान कर तेजी से कार्य करें।

बुधनी में करें टॉप क्लस्टर का विकास

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देश और दुनिया में सबसे बड़ी जरुरत रोजगार है। रोजगार स्थापित करने के लिए लोगों की मदद करें। यह महत्वाकांक्षी कार्यक्रम है। सरकारी नौकरी के लिए ही नहीं, लोग स्व-रोजगार के भी प्रयास करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में वेण्डर इकाइयों को एंकर इकाइयों से जोड़ने के लिए दूरस्थ जिलों में अधिकाधिक आयोजन करें। ईज ऑफ डूईंग बिजनेस मे जिलों की रैंकिंग करें। प्रशिक्षण और रोजगार दोनों का समन्वय हो। आईटीआई को उद्योगों के साथ जोड़ें।

Leave a Reply