एमआईएफएफ कार्यशाला में श्री रामप्रसाद सुंदर जी ने कहा कि स्कोरिंग संगीत भावनाओं को चित्रित करता है

एक महान संगीतकार आपको पूरी रचना देखने से पहले ही भावनाओं का अनुभव प्रदान कर सकता है

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहनीय किए गए संगीतकार श्री रामप्रसाद सुंदर जी ने एमआईएफएफ कार्यशाला में कहा कि स्कोरिंग संगीत भावनाओं को चित्रित करता है और एक महान संगीतकार आपको पूरी सामग्री देखने से पहले ही भावनाओं का अनुभव प्रदान कर सकता है। उन्होंने कहा कि “संगीत फिल्म का एक अंतर्निहित हिस्सा होता है और यह फिल्म में शुरूआत से लेकर अंत तक कायम रहता है। इसलिए एक फिल्म निर्माता को चाहिए की वह फिल्म के बीच में या पोस्ट-प्रोडक्शन चरण के दौरान संगीत को न डाले, बल्कि इसे शुरुआत में ही फिल्म में शामिल करे।“

17वें मुंबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह के अवसर पर आज ‘लघु फिल्मों और वृत्तचित्रों की स्कोरिंग’ विषय पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/5-1YQE5.jpg?w=810&ssl=1

फिल्म प्रेमियों को संबोधित करते हुए श्री रामप्रसाद ने कहा कि फिल्मों, टीवी और थिएटर के आने के पहले से ही संगीत हमारे जीवन का हिस्सा रहा है। संगीत अपने आप में एक भाषा है और फिल्म निर्माण के समय इसका उपयोग एक मौलिक संवाद के रूप में किया जाना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि वृत्तचित्रों में, संगीत को इस प्रकार से सेट किया जाता है कि  जब कथाकार बोलता है या वॉयस ओवर शुरू होता है, तो संगीत भी उनके साथ-साथ चलता रहता है और यही भावनाओं को स्थापित करता है।

सोनिक ब्रांडिंग के महत्व के बारे में उल्लेख करते हुए, संगीतकार ने कहा कि “इसका मतलब होता है केवल संगीत सुनकर एक ब्रांड या शीर्षक की पहचान करना। अच्छे संगीतकारों/कलाकारों का चुनाव करना, शो रनर द्वारा शो सोनिक पैलेट के लिए स्पष्ट दृष्टिकोण स्थापित करना, तारीख प्रेरित रचनात्मक ब्रेकडाउन, एक सही सोनिक पैलेट की प्राप्ति के लिए एक सही संगीत क्रू के साथ काम करना इनके लिए बुनियादी सिद्धांत हैं।”

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/5-2GMHI.jpg?w=810&ssl=1

उन्होंने कहा कि एक वृत्तचित्र और लघु फिल्म के प्रभाव को सुनिश्चित करने की दिशा में संगीत एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस संबंध में, नेटफ्लिक्स द्वारा भारत में स्कोरिंग के सर्वोत्तम प्रथाओं और अंतरराष्ट्रीय मानकों की प्राप्ति के लिए ज्यादा से ज्यादा ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। नेटफ्लिक्स द्वारा आयोजित किए गए इस विस्तृत कार्यशाला के माध्यम से लघु फिल्मों और वृत्तचित्रों के लिए संगीत स्कोरिंग की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बताया गया है। इसने प्रतिभागियों के लिए संगीत निर्माण की दुनिया में स्टाइल और स्कोरिंग के साथ-साछ कई विषयों का कवर करने के लिए मार्ग प्रशस्त किया गया है।

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/5-3GYPE.jpg?w=810&ssl=1

श्री रामप्रसाद जी एक अंतरराष्ट्रीय स्तर के संगीतकार और ध्वनि डिजाइनर हैं। चेन्नई से इलेक्ट्रॉनिक्स में स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के बाद, वे न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय (एनवाईयू) में फिल्म और टीवी में संगीत रचना करने के लिए स्नातक की पढ़ाई करने हेतु अमेरिका चले गए थे और उन्होंने लॉस एंजिल्स में एआर, वीआर और वीडियो गेम की संगीत के लिए वीडियो सिम्फनी में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है। एक संगीतकार और ध्वनि डिजाइनर के रूप में, उन्होंने रिमोट कंट्रोल प्रोडक्शंस (हंस ज़िमर), कटिंग एज ग्रुप, ऑडीसी, आउटपुट इंक, नेटिव इंस्ट्रूमेंट्स और ऐप्पल, इंक के साथ कई अन्य संस्थानों के साथ काम किया है। वे हाल ही में वैश्विक स्ट्रीमिंग दिग्गज नेटफ्लिक्स में शामिल हुए हैं, जहां पर उन्होंने भारतीय संगीत क्रिएटिव और प्रोडक्शन वर्टिकल में प्रमुख के रूप में पदभार ग्रहण किया है, जो कि भारत-आधारित श्रृंखला, फिल्मों और गैर-कथा सामग्री का निर्माण करने में अपने संस्थानों का सहयोग करता है।

****

 

पीआईबी एमआईएफएफ टीम| एसएसपी/एए/डीआर/एमआईएफएफ-44

हमारा मानना ​​है कि आप जैसे फिल्म-प्रेमियों के अच्छे शब्दों से ही अच्छी फिल्में चलती हैं। हैशटैग #AnythingForFilms / #FilmsKeLiyeKuchBhi और #MIFF2022 का उपयोग करके सोशल मीडिया पर फिल्मों के लिए अपना प्यार साझा करें। हाँ, चलिए फिल्मों के लिए अपने प्यार का विस्तार करते हैं!

# एमआईएफएफ 2022 की कौन सी फिल्मों ने आपके दिल की धड़कन को बढाया है या कम किया है? हैशटैग #MyMIFFLove  का उपयोग करके दुनिया को अपनी पसंदीदा MIFF फिल्मों के बारे में बताएं।

अगर आपको कहानी पसंद आयी हैं, तो हमारे संपर्क में रहें! क्या आप फिल्म या फिल्म निर्माता के संदर्भ में ज्यादा जानकारी प्राप्त करना चाहेंगे? खासतौर पर क्या आप पत्रकार या ब्लॉगर हैं जो फिल्मों से जुड़े हुए लोगों से बात करना चाहते हैं? पीआईबी आपको उनके साथ जुड़ने में सहायता प्रदान कर सकता है, हमारे अधिकारी महेश चोपड़ा से +91-9953630802 पर संपर्क करें। आप हमें miff.pib@gmail.com.पर मेल भी कर सकते हैं।

करोना महामारी के बाद इस महोत्सव के पहले संस्करण के लिए, फिल्म प्रेमी इसमें ऑनलाइन भी शामिल हो सकते हैं। ऑनलाइन प्रतिनिधि के रूप में मुफ्त में शामिल होने के लिए (यानी, हाइब्रिड मोड के लिए) खुद को https://miff.in/delegate2022/hybrid.php?cat=aHlicmlk वेबसाइट पर रजिस्टर करें। प्रतियोगिता में शामिल फिल्मों को आप यहां पर देख सकते हैं, जब कभी फिल्मों को यहां पर अपलोड किया जाता है।

Leave a Reply